Home > Articles & Blogs- Hindi

एक्युप्रेशर : बिना चीरफाड के रोगों का निदान

हमारे शरीर के सभी भागों में प्र्रेशर प्वाइंट (पैरों के तलवो और हथेलीयों में) होते हैं। एक्युप्रेशर पद्वति में इन पर विधिवत दबाव डाला जाता है, जिससे रोगग्रस्त हिस्से उद्वेलित होने लगते हैं और रोग ठीक हो जाता है।

आन लाइन शिक्षा

समय समय पर सरकार के द्वारा शिक्षा को बढ़ावा एंव सरल बनाने के लिए प्रयास किये जिससे विद्यार्थीयों एंव शोधार्थीयों की मदद मिल सके और वह देश के विकास में अपना योगदान दे सके,

रोजगार की जानकारी देने वाली 10 महत्वपूर्ण वेब साइटें

नौकरीयों की जानकरी देने वाले अब अखबार के परिशिष्टों की जगह अब इंटरनेट साइटें अभ्यथिर्यो और नियोक्ताओं की जरूरत बनती जा रही हैं। इंटरनेट एक ऐसा माध्यम है जो कि रोजगार देने में अव्वल है।

शिक्षा के क्षेत्र में आज भी हमारी स्थिति

आज हम तकनीक के मामले में आज हम मंगल और चाॅद पर ग्रह पर चेले गये हैं अंतरिक्ष में भी नित नये प्रयोग कर रहे है लेकिन शिक्षा के क्षेत्र में आज भी हमारी स्थिति जस की तस बनी हुई है, चाहे हमारे देश की उच्च शिक्षा हो या हमारी स्कूल शिक्षा सबका हाल एक जैसा है।

समाज के प्रति विश्व विद्यालयों के कार्य

श के विकास के लिए यूनिवर्सीटीज को आगे आना होगा जिससे शोध कार्य करने वाले छात्रों का भी मदद मिल सके एंव देश में शोधार्थीयों द्वारा तैयार की गई रिर्पोट एंव शोध कार्यो को सही दशा दिशा मिल सकें।

शिक्षा का बाजारीकरण

हायर एजुकेशन में जिस तरह यूजीसी ने नियम बनाये और शोध कार्यो में हो रहे काॅपी पेस्ट से देश में शोध कार्यो की गुणवत्ता पर सवालिया निशान लगना लाजमी है। शोधार्थी जिस तरह से शोधकार्यो में एक दूसरे की नकल कर अपने काम को इतिश्री कर देते हैं।

रोजमर्रा के जीवन में जरूरी एंव उपयोगी ऐप

तकनीक के इस्तेमाल के कारण लोगों के जीवन में स्मार्ट फोन और आई फोन की माॅग बढ़ी इस माॅग के बढ़ने के कारण तकनीक का इस्तेमाल ज्यादा होने लगा और आम आदमी और वी0आई0 पी0 लोगों के बीच ऐपो और गेजेटो के उपयोग का चलन ज्यादा होने लगा

डायबिटीज के रोगियों के लिए हैं रामबाण ये आसन

मधुमेह को प्राचीन काल में राज रोग के नाम से जाना जाता था लेकिन यह बिमारी आज घर-घर में व्यापत हो गयी अनियमित जीवन शैली के कारण आज यह बिमारी बढ़ती ही जा रही है।